-A A A+

आईआईएम पीएचडी कार्यक्रम

title-arrow

आईआईएम पीएचडी कार्यक्रम

  • आईआईएम पीएचडी कार्यक्रम आईआईएम उदयपुर के डॉक्टरेट-लेवल का कार्यक्रम है जो मजबूत शैक्षणिक योग्यता युक्त उन छात्रों के लिए बनाया गया है जो चुनोतिपूर्ण मूल शोध करने की इच्छा रखते हैं। आईआईएम उदयपुर से प्रबंधन में पीएचडी करने वाले छात्र जिन्होंने विशेष रूप से पूरे करियर में निरंतर अनुसंधान पर ध्यान केंद्रित किया हो, शैक्षिक जगत में बुलाये जाने हेतु अच्छी तरह से सुसज्जित होंगे |
  • आईआईएम पीएचडी कार्यक्रम की अवधि आम तौर पर 5 साल होती है। छात्र सबसे पहले मूलभूत विषयों, विधियों और विशेषज्ञता के क्षेत्र में उन्नत पाठ्यक्रमों को शामिल करते हुए कठिन पाठ्यक्रम पूरा करते हैं। पीएचडी छात्रों के लिए पाठ्यक्रम विशेष रूप से डिजाइन किए गए हैं और एमबीए पाठ्यक्रम से पूरी तरह से अलग हैं। इस समय के दौरान छात्र अनुसंधान कौशल, दृष्टिकोण, विषय क्षेत्र और तरीकों की एक श्रृंखला में अनुभव और महारत हासिल करते है।
  • अपने चुने हुए क्षेत्र में एक व्यापक परीक्षा पूरी करने के बाद, छात्र अपने डॉक्टरेट शोध प्रबंध पर काम करते हैं, जो अपने क्षेत्र में महत्वपूर्ण विद्वानों के योगदान के लिए डिज़ाइन किए गए मूल शोध का कार्य करते हैं।
  • आईआईएमयू में आईआईएम पीएचडी के छात्रों को एक पूर्ण छात्रवृति प्राप्त होती है जिसमे ट्यूशन, रहने की जगह, अन्य कार्यक्रम के खर्च और स्टीफेंड की राशि शामिल होती है।
  • 2016 में, आईआईएम उदयपुर से प्रबंधन में पीएचडी दो क्षेत्रों में शुरू हुई: मार्केटिंग और ऑपरेशन मैनेजमेंट।
  • 2018 में, पीएचडी में दो और क्षेत्र शुरू किए गए हैं: फाइनेंस एवं अकॉउंटिंग और संगठनात्मक व्यवहार एवं मानव संसाधन प्रबंधन।
आईआईएम उदयपुर के पीएचडी प्रोग्राम का पाठ्यक्रम

अनुसंधान के तरीके और फाउंडेशन पाठ्यक्रम सभी छात्रों के लिए अनिवार्य हैं और शोध करने के लिए आवश्यक नींव और उपकरणों के साथ उनकी मदद करते हैं। कोर पाठ्यक्रम क्षेत्र के लिए विशिष्ट हैं और छात्रों को क्षेत्र की गहन समझ बनाने में मदद करते हैं।

समयमूल कोर्सेजअनुसंधान की विधियांफाउंडेशन पाठ्यक्रम
प्रथम वर्षकोर I, II, IIIसंभावना और सांख्यिकी, अर्थमितीय तरीकेव्यवहार मनोविज्ञान, सूक्ष्मअर्थशास्त्र
कुल322
अनुसंधान प्रैक्टिकम / स्वतंत्र अध्ययन
द्वितीय वर्षकोर IVव, V, VIगेम थ्योरी- I / गुणात्मक अनुसंधान के तरीकेप्रबंधन सिद्धांत, अनुसंधान दर्शन
कुल312
व्यापक परीक्षा प्रथम प्रयास
तृतीय वर्ष विकास कार्यशाला (डीडब्ल्यू) 1, डीडब्ल्यू 2, डीडब्ल्यू 3, डीडब्ल्यू 4 प्रबंधन शिक्षण अभ्यास, प्रस्ताव कार्य शुरू होता है
तृतीय वर्ष की समाप्तिअपेक्षित प्रस्ताव डिफेंस (जल्द से जल्द)
चतुर्थ वर्ष की समाप्तिअपेक्षित शोध डिफेंस (जल्द से जल्द)
पांचवे वर्ष की समाप्तिअपेक्षित शोध डिफेंस (नवीनतम)

ऑपरेशन मैनेजमेंट (ओ एम) मुख्य पाठ्यक्रम
  • कोर I: ऑपरेशन रिसर्च
  • कोर II: इन्वेंटरी थ्योरी
  • कोर III: स्टोचैस्टिक प्रक्रियाएं
  • कोर IV: सप्लाई चैन समन्वय और अनुबंध
  • कोर V: ऑपरेशन मैनेजमेंट पर वाचन संगोष्ठी
  • कोर VI: ऑपरेशन प्लानिंग एवं कंट्रोल
मार्केटिंग कोर पाठ्यक्रम
  • कोर I: मार्केटिंग थ्योरी
  • कोर II: प्रयोग डिजाइन
  • कोर III: कंस्यूमर बिहैवियर
  • कोर IV: मार्केटिंग मॉडल
  • कोर V: कंस्यूमर कल्चर थ्योरी
  • कोर VI: मार्केटिंग रणनीति
फाइनेंस एवं अकॉउंटिंग (एफआइएनएसी) कोर पाठ्यक्रम
  • कोर I: स्टोचैस्टिक प्रक्रियाएं
  • कोर II: वित्तीय डेरिवेटिव
  • कोर III: सम्पति मूल्यांकन
  • कोर IV: टाइम सीरीज एनालिसिस
  • कोर V: मार्केट माइक्रोस्ट्रक्चर
  • कोर VI: कॉर्पोरेट फाइनेंस डॉक्टरल
संगठनात्मक व्यवहार और मानव संसाधन प्रबंधन (ओबीएचआरएम) कोर पाठ्यक्रम
  • कोर I: संगठनात्मक थ्योरी
  • कोर II: संगठनात्मक व्यवहार
  • कोर III: मानव संसाधन प्रबंधन
  • कोर IV: ओबी, ओटी और एचआरएम में क्लासिक्स
  • कोर V वी: वाचन संगोष्ठी
विकास कार्यशालाएं (डी डब्ल्यू)
  • डीडब्ल्यू 1: अनुसंधान लेखन कौशल
  • डीडब्ल्यू 2: संचार और प्रस्तुति कौशल
  • डीडब्ल्यू 3: विषय अध्यापन
  • डीडब्ल्यू 4: पाठ्यक्रम प्रबंधन (कोर्स डिजाइन, कक्षा प्रबंधन, छात्र सलाह, आदि)

मार्केटिंग और ऑपरेशन मैनेजमेंट (ओएम) में विशेषज्ञता के लिए कोई विकल्प नहीं दिया गया है।

प्रथम वर्ष के अंत में, आईआईएम पीएचडी कार्यक्रम के छात्रों को एक शोध अभ्यास / स्वतंत्र अध्ययन करने की आवश्यकता होती है। यह अनुसंधान अभ्यास छात्र के क्षेत्र में एक फैकल्टी सदस्य के साथ किया जाता है।

यदि कोई छात्र स्वतंत्र अध्ययन में असफल हो जाता है, तो उसे पहले साल के अंत में छोड़ना पड़ता है।

व्यापक परीक्षा वर्ष प्रथम और द्वितीय दोनों ही वर्ष में दिए गए क्षेत्र-विशिष्ट पाठ्यक्रमों / विषयों पर केंद्रित होती है।